अगर ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ जाये तो क्या होगा?

विज्ञानं होम

दोस्तों क्या आपने कभी सोचा है कि अगर ऑक्सीजन हमारे वातावरण में बढ़ जाये तो क्या हॉग?

दोस्तों जैसे की हम सभी जानते है कि हमारे ग्रह पर ऑक्सीजन की मात्रा 21% है l मान लीजिए अगर इस की मात्रा 55 से 65% तक बढ़ जाये तो क्या होगा?

आज से पांच करोड़ साल पहले जब इस धरती पर कई बड़े बड़े पेड़ पौधे थे l तब इस धरती पर रहने वाले जीव कई गुना बड़े थे।

कई बड़े बड़े किट पतेंगे भी थे । और इन जीव ,पेड़ पौधों की लंबाई भी सामान्य से ज्यादा थी।

ऐसे में यह सवाल उठता है कि अगर अचानक से ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ जाये तो क्या होगा।

अगर ऑक्सीजन की मात्रा दो गुनी भी हुई तो पड़े पौधे ,जीव जंतु , किट पतेंगे हर जीवों की बढ़ने की रफ़्तार बढ़ जाएंगे।

वहीँ गाड़ियां काम पेट्रोल पीयेगी । क्यूंकि ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ जाने के से फ्यूल की खपत कम होगी। उसमे फ्यूल के जलाने की छमता बढ़ जायेगी। नाइट्रोजन के अनुपात में कमी के कारण ऊर्जा का अंतरण काम हो गा।

ऊँचे प्रदेश में जाना आसान हो जायेगा। हिमालय और एंडीज़ जैसे पर्वतो पर जाना आसान हो जायेगा। क्यों की ऑक्सीजन के बढ़ जाने से साँस की दिकत ख़तम हो जाएंगे। क्योंकि उचाई पर ऑक्सीजन की मात्रा कम हो जाती है।वहीँ जंगलों में रहने वाले किट पतेंगे जो gaseous diffusion प्रक्रिया से साँस लेते है। ऑक्सीजन के बड़ जाने से उनका सेइज़े कई गुना बढ़ जायेगा।

हर आदमी अधिक सजग चुस्त दुरुस्त होगा और अधिक सक्रियता और खुश का अनुभव करेगा। वहीँ हमारे परफॉरमेंस में सुधार होगा। जिसे स्पोर्ट्स खेल कूद में बने हर रिकॉर्ड टूट जायेंगे।हम काम बीमार पड़ेंगे। हमारा इम्यून सिस्टम और अच्छा हो जायेगा।

इस के साथ ही इस के कुछ दुष्परिणाम भी होंगे। जैसे की हमारी उम्र सीमा घाट जायेगी। क्योंकि फ्री radicals ऑक्सीजन के फ्री ions oxcidative स्टेट में रिएक्शन से हम जल्दी बूढ़े होने लेंगेंगे ।

Oxcidative स्टेट हमारे शारीर की बहुत से सेलुलर एक्टिविटी को बहुत ज्यादा प्रभावित करता। इस से मल्टीप्ल स्कॉलोरिस ,अल्ज़िमेर, पार्किन्सन जैसे बीमारियाँ होने का खतरा बढ़ जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *