आज भारत बंद अफवाह ! सरकार को पता नहीं आज किसने बुलाया है भारत बंद

Facebook देश दुनिया होम

कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर चल रही है खबर कि 10 अप्रैल को संपूर्ण भारत बंद रहेगा.

सोशल मीडिया में कई दिनों से चल रही है खबर कि 10 अप्रैल 2018 को भारत बंद रहेगा लेकिन ना तो सरकार और ना ही प्रशासन को पता है कि आज किसने बुलाया है भारत बंद. पर कई जिलों में सरकार ने हाई अलर्ट जारी कर दिया है और 1 सिर कटने के लिए पूरी तैयारी भी कर ली है.

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो SC/ ST अधिनियम संशोधन के समर्थन में तथा आरक्षण हटाने की मांग को लेकर सामान्य जाति के लोगों द्वारा 10 अप्रैल को भारत बंद का आह्वान किया गया है .हालांकि इस बंद नेतृत्व कौन कर रहा है, सरकार के पास इसकी जानकारी भी नहीं है. लेकिन फिर भी सरकार ने कई जिलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया है. दूसरी तरफ जिला प्रशासन ने इस आह्वान को देखते हुए एतिहात के तौर पर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम की है. बंद को लेकर समर्थक वह विरोधियों के बीच आपसी टकराव की आशंका व्यक्त की जा रही है.

वही विशेष शाखा की ओर से जिलों को जारी की गई अलर्ट में कहा गया है, कि 10 अप्रैल 2018 के भारत बंद को सामान्य जाति के लोगों द्वारा बुलाया गया है . इन को लेकर सोशल मीडिया में प्रचार और प्रसार भी किया जा रहा है इस बंद SC/ ST समुदाय के लोगों द्वारा विरोध किया जा सकता है. पूर्व में हुई घटनाओं को देखते हुए 10 अप्रैल को बंद के दौरान अप्रिय घटनाओं से इनकार नहीं किया जा सकता है. इस संबंध में विशेष शाखा ने सभी जिलों के डीसी ,एसपी Rail SP को सतर्क रहने की अपील की है.

सोशल मीडिया पर फैली है भारत बंद की सनसनी

देश के इतिहास में संभवत यह पहली बार हुआ है कि किसी नामचीन संगठन के आवाहन के बिना ही भारत बंद होने की सनसनी फैली है. मीडिया पर लगातार कुछ दिनों से 10 अप्रैल को भारत बंद है ऐसी खबर फैलाई जा रही थी. वही सरकार संभावित बंद के मद्देनजर सोमवार को गृह मंत्रालय भी आ गया है . वही सुरक्षा चाक चौकीदार जो बंद रखने और हिंसा रोकने के लिए राज्यों को परामर्श जारी कर दिया.

सोशल मीडिया जैसे WhatsApp, Facebook और Twitter से फैली सनसनी का आलम यह था , कि बंद का ऐलान को देखते हुए बहुत सारी जगहों पर SMS इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई . तो कहीं कहीं पर स्कूल पर  बंद रखने का ऐलान कर दिया गया और साथ में धारा 144 लागू कर दी गई. लेकिन बंद का आहवाहन किस संगठन ने क्यों और किन मांगों के साथ किया है इसकी जानकारी किसी भी राज्य या राज्य सरकार के पास या जिला प्रशासन के पास नहीं है.

Facebook के कुछ ग्रुप्स मैं सबसे पहले आई थी भारत बंद की खबर

हिंदुस्तान की छपी एक खबर  के मुताबिक Facebook के कुछ ग्रुप्स में यह खबरें सबसे पहले आई थी कि 10 अप्रैल 2018 को भारत बंद है. Facebook पर सक्रिय ग्रुप

  • laranpur एक गांव  2792 सदस्य
  • 10 अप्रैल भारत बंद 4966 सदस्य
  • बजरंग दल मानपुर बिहार 2820 सदस्य

यह पहला मौका नहीं है ,जब इस तरह की खबर सोशल मीडिया के माध्यम से सामाजिक शांति को नुकसान पहुंचाने का प्रयास किया गया है.  सोशल मीडिया के जरिए कौन किसका फायदा पहुंचा रहा है, इसका आकलन करना बहुत कठिन है. लेकिन सरकार चौकस है .गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा 10 अप्रैल को बुलाएंगे भारत बंद के मद्देनजर एम एच ए  सभी राज्यों को उचित इंतजाम करने को कहा है ,और संवेदनशील जगहों पर गश्त तेजी करने को कहा गया है. जिससे जान माल पर किसी भी नुकसान से बचा जा सके.

Image credit to znews.com