केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड पेपर लीक मामला

देश दुनिया होम

CBSE दफ्तर के बाहर छात्रों का प्रदर्शन रहा गलती बोर्ड की और खामियाजा भुगत रहे छात्रओ

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड CBSE पेपर लीक मामले को लेकर छात्रों का विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है अब दिल्ली स्थित CBSE दफ्तर के बहार बड़ी संख्या में छात्र इकट्ठा हुए और वोट के खिलाफ जमकर नारेबाजी की इस मामले में दिल्ली पुलिस ने आज करीब 30 लोगों से पूछताछ की जिस मेहंदी की कोचिंग सेंटर पर छात्र और शिक्षक भी शामिल थे इस बीच सियासती भी शुरू हो गई है/। दिल्ली के पूर्व CM शीला दीक्षित ने इस मामले को गंभीरता से लेने की बात कही है।

1 दिन पहले लीक हुआ पेपर कोचिंग के संचालक समिति 25 से पूछताछ की जा रही है।

सीबीएसई की 12वीं की अर्थशास्त्र और दसवीं के गणित के प्रश्न पत्र पहले ही लीक हो जाने के मामले की जांच शुरू हो गई है इसलिए मैं दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा में अब तक 25 लोगों से पूछताछ की है जिनमें 18 स्टूडेंट 5 टुटर और एक अन्य व्यक्ति शामिल है। इसके अलावा दिल्ली के राजेंद्र नगर स्थित एक कोचिंग संस्थान के संचालक से भी पूछताछ की जा रही है जिस पर कथित तौर पर पेपर लीक का संदेह है। जांच में इस बात का भी खुलासा हुआ है यह परीक्षा के ठीक 1 दिन पहले प्रश्नपत्र लीक हो गए थे वही मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावेडकर ने कहा है कि CBSE पुनः परीक्षा की तारीख की घोषणा संभवता सोमवार 2 अप्रैल या मंगलवार 3 अप्रैल को कर देगी।

इस पूरे मामले में आगे की कार्रवाई करते हुए पुलिस ने शुक्रवार को 30 से ज्यादा लोगों से पूछताछ की जिसमें निजी कोचिंग सेंटर के छात्र और शिक्षक शामिल थे।

वही छात्र CBSE के दफ्तर के बाहर नारेबाजी करने लगे हैं वही छात्रों का कहना है कि पूरे मामले में रिपोर्ट की गई थी और ऐसे में छात्र इसका खामियाजा क्यों भुक्ते देंगे वही छात्र यह भी कह रहे हैं कि इसका खामियाजा छात्री क्यों बुक ते।

छात्रों का आरोप बोर्ड और सरकार है जिम्मेदार

ठीक से 1 दिन पहले यानी 29 मार्च को छात्रों ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर प्रदर्शन किया था इस दौरान छात्रों ने यह मांग की थी कि यह तो सभी विषयों की परीक्षा हो या फिर किसी भी विषय की परीक्षा ना हो छात्रों का आरोप है कि पूरे मामले के लिए बोर्ड और सरकार जिम्मेदार है।

गुरुवार को पेपर लीक मामले को लेकर पहली बार सीबीएसई के अध्यक्ष अनीता करवाल मैं अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा है कि दोबारा परीक्षा करने का फैसला छात्रों के पक्ष में लिया गया है उन्होंने कहा कि हम छात्रों बेहतरी के लिए लगातार काम कर रहे हैं और परीक्षा की तारीख की जल्द ही घोषणा की जाएगी।