क्या विजय माल्या ने बीजेपी पार्टी को 35 करोड रुपए दिए? सोशल मीडिया पर वायरल होती एक खबर

देश दुनिया

“विश्व हिंदी संस्थान कनाडा” के Facebook पेज पर कुछ दिन पहले एक चेक का फोटो पोस्ट किया गया। जिसके साथ लिखा हुआ है विजय माल्या ने भागने से पहले भारतीय जनता पार्टी को 35 करोड रुपए का चेक दिया है।

आपको बता दें कि विश्व हिंदी संस्थान कनाडा के इस Facebook पेज पर लगभग 40000 फॉलोवर है। इसके अलावा फेसबुक पर इसे दूसरे अन्य पेजों पर भी शेयर किया गया है। trolltopnews की टीम ने इसके पीछे कि सच को जानने की कोशिश की।

क्या वाकई विजय मालिया ने भारत छोड़ने से पहले भारतीय जनता पार्टी को 35 करोड रुपए का चेक दिया? ऐसे ही कई सवाल के जवाब ढूंढने निकली trolltopnews की टीम को आखिरकार इस चेक के पीछे का सच के बारे में पता लगाने की कोशिश की है।

इस चेक के साथ ऊपर कैप्शन में लिखा गया है कि “लंदन भागने से पहले विजय माल्या ने भारतीय जनता पार्टी को 33 करोड़ रुपए का चेक दिया है देश को बचाने के लिए इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें”।

क्या है इसके पीछे का सच?

Trolltopnews की टीम ने इसके पीछे के सच को जानने की कोशिश की। सबसे पहले Google पर सर्च किया क्या की विजय माल्या ने BJP को 35 करोड रुपए का चेक दिया। Google पर सर्च किए जाने से सबसे पहले हमारे पास वैसे कोई खास जानकारी नहीं मिली।

फिर हमारी टीम ने इस चेक की जांच शुरू की तो पाया कि यह चेक Axis Bank का ही है। यह चेक नकली या फर्जी नहीं है। लेकिन इस चेक के हर एक बिंदुओं की जांच करने पर हमें इसके पीछे के असलियत क्या पता चल ही गया। चेक को जूम करके जब विजय माल्या के सिग्नेचर की जांच की गई तो दूध का दूध और पानी का पानी सामने आ गया। हमारी टीम द्वारा जो विजय माल्या के सिग्नेचर को खोजा गया तो विकिपीडिआ का एक लिंक मिला जिसमें विजय माल्या के असली हस्ताक्षर दिया गया था। नीचे दिए गए लिंक में जा कर के आप उस सिग्नेचर को देख सकते हैं।

विकिपीडिआ लिंक ऑफ़ विजय माल्या सिग्नेचर

https://en.m.wikipedia.org/wiki/File:Signature_of_Vijay_Mallya.svg

कुछ इस तरह का सिग्नेचर हमें Wikipedia द्वारा विजय माल्या का मिला। लेकिन trolltopnews की टीम को इससे संतुष्टि नहीं हुई। तब ट्रोल टॉप न्यूज़ की टीम ऐसे सरकारी दस्तावेज खोजना शुरू किया जिसमें विजय माल्या के सिग्नेचर हो। कुछ ही मेहनत के बाद हमें dnaindi.com पर हमें एक आर्टिकल पढ़ने को मिला। जिसे 4 मई 2016 को पोस्ट किया गया था।

जिसमें विजय माल्या द्वारा राज्यसभा के सीट से रिजाइन देने की बात कही गई थी। इसके साथ ही राज्यसभा को लिखे गए पत्र का स्नैपशॉट और हस्ताक्षर भी थे।

इस डॉक्यूमेंट को dnaindia वेबसाइट पर Zeebiz: Image Courtesy के साथ अपलोड किया गया था। इससे तो यह साफ साफ पता चलता है कि इस सरकारी डॉक्यूमेंट पर विजय माल्या के हस्ताक्षर अलग हैं और सोशल मीडिया पर वायरल होती हुई उस चेक पर विजय माल्या के हस्ताक्षर में अंतर दिखता है।

अब आपको यह तो पता चल ही गया होगा कि सोशल मीडिया पर वायरल होती हुई तस्वीर का चेक जिसमें लिखा गया है कि “लंदन भागने से पहले विजय माल्या ने भारतीय जनता पार्टी को 35 करोड रुपए का चैक दिया है और देश को बचाने के लिए इसे जितना ज्यादा शेयर कर सकें करें” खबर FAKE, और झूठा साबित हुई। इस राह का कोई चैक विजय माल्या द्वारा भारतीय जनता पार्टी को नहीं दिया गया है। आपको सोशल मीडिया पर इस तरह की खबरों से सावधान रहना चाहिए।

1 thought on “क्या विजय माल्या ने बीजेपी पार्टी को 35 करोड रुपए दिए? सोशल मीडिया पर वायरल होती एक खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *