गर्भावस्था में ,यह फल भूलकर भी ना खाएं।

घरेलू नुस्खे होम

ऐसा तो फल मनुष्य के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी होती है ,परंतु कुछ कुछ मनुष्य के जीवन में ऐसी अवस्था भी आती है जिसमें फल खाना लाभकारी सिद्ध नहीं होता है। आज हम लोग ऐसे ही कुछ फलों के बारे में आप सबको बताने वाले हैं जिनका सेवन गर्भावस्था में ना ही करें तो बेहतर होगा।

अंगूर

गर्भवती महिला को गर्व के आखरी के 3 महीनों में अंगूर का सेवन कभी नहीं करना चाहिए यह बात डॉक्टर इसलिए भी कहते हैं क्योंकि अंगूर की तासीर गर्म होती है जिससे समय से पहले प्रसव हो सकता है इसे जितना हो सके अंगूर से दूर रहे।

पपीता

पपीता खाने से गर्भवती महिला को बचना चाहिए कच्चा पपीता बेहद खतरनाक होता है। गर्भवती महिलाओं के लिए पपीता गर्भावस्था में नहीं लेना चाहिए। डॉक्टर भी सलाह देते हैं ,कि इस दौरान पपीता खाने से बचना चाहिए पपीता खाने से भी प्रसव जल्द होने की संभावना होती है। पपीता गर्भाशय के संकुचन को ट्रिगर कर देता है। जिस से गर्भ ठहरता नहीं है गर्भाशय के तीसरे और आखिरी के तीसरे महीने के समय पपीता थोड़ा खाया जा सकता है क्योंकि पका हुआ पपीता विटामिन सी और अन्य पौष्टिक आहार से भरपूर होता है जो गर्भावस्था के शुरुआती लक्षणों में कब्ज जैसी समस्या को रोकने में मददगार साबित होती है।

इन सब्जियों से बचें

इन फूलों के साथ-साथ कुछ सब्जियों से भी गर्भवती महिलाओं को परहेज करना चाहिए । गर्भवती महिलाओं को कच्ची सब्जियों का सेवन नहीं करना चाहिए साथ ही  वह जो भी सब्जेक्ट है वह ठीक तरह से धुली हुई और साफ़ हो ऐसा इसलिए होता है ताकि आप सकरमक रोगों से बच सकें

हर महिला को गर्भ अवस्था के दौरान इन बातों का पता होना जरूरी है क्योंकि इस दौरान थोड़ी सी भी लापरवाही मां और बच्चे दोनों के लिए खतरनाक हो सकता है इसलिए समय-समय पर डॉक्टर से सलाह भी लेते रहें।