राहुल गांधी द्वारा नरेंद्र मोदी पर लगाया गया डेटा लीक का आरोप..

देश दुनिया होम
 नई दिल्ली Facebook data leak का मामला अब जहां केवल Facebook के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग तक ही सीमित नहीं रह गया है। कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा अब मोदी पर भी डाटा लीक का आरोप लगाया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए नमो ऐप के यूजर्स की डाटा किसी अमेरिकी कंपनी को दिए जाने का आरोप लगाया है।
Facebook डाटा लीक पर जारी विवाद के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने” नमो एप “के बहाने सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है।  राहुल ने खबर का लिंक साझा करते हुए कहा है कि जब कोई यूजर्स नमो ऐप डाउनलोड कर साइन अप करता है ,तो उस शख्स की सारी निजी जानकारी अमेरिकी कंपनी को चली जाती है । राहुल के इस बयान पर बीजेपी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष को तकनीकी जानकारी नहीं है।
वहीं ट्विटर पर राहुल ने मोदी पर तंज कसते हुए ट्वीट क्या है” हाय मेरा नाम नरेंद्र मोदी है मैं भारत का प्रधानमंत्री हूं जब आप मेरे अधिकारी खेत पर साइन अप करते हैं तो मैं आपकी सारी जानकारी अमेरिकी कंपनी के अपने दोस्तों को दे देता हूं मुख्यधारा की मीडिया आपका धन्यवाद आप इस अहम स्टोरी को दबाकर शानदार काम कर रहे हैं”

 

 

क्या है मामला?

बात है फ्रांस का एक हैकर एलियट एंडरसन की जिन्होंने दावा किया है , कि नरेंद्र मोदी एप डाउनलोड करने वाले लोगों की व्यक्तिगत जानकारी तीसरी पार्टी के साथ साझा की गई है।
एलियट एंडरसन ने ट्विटर पर लिखे,  जब कोई यूजर्स नरेंद्र मोदी ऐप पर प्रोफाइल बनाता है। तब उसके डिवाइस की जानकारी के साथ उसकी निजी जानकारी थर्ड पार्टी डोमेन in.wzrkt.com  के साथ शेयर की जाती है यह कंपनी एक अमेरिकी कंपनी क्लेवर टेप से जुड़ी हुई है।
वही हाल ही में Facebook के ऊपर डाटा लीक के मामला आने के बाद लगातार Facebook पर सवाल उठाए जा रहे हैं । क्या हमारा और आपका डाटा Facebook पर सुरक्षित है। Facebook ने भी अपनी गलती मानी है।
मोज़िला और टेस्ला जैसे दिग्गज कंपनी ने बे इस मामले को लेते हुए फिलहाल फेसबुक से अपना नाता तोड़ लिया है।
वही रिपोर्ट यह भी आ रही है के वेब ब्राउज़र बनाने वाली दिग्गज कंपनियों में से एक मोजिला नए इस मामले को गंभीरता से लेते हुए Facebook पर उसे अपना पेज को डिसेबल कर दिया है मोजिला कंपनी के कार्यकारी अध्यक्ष एक इंटरव्यू के दौरान कहा के जब तक Facebook अपने डाटा की सेटिंग्स कुछ ठीक नहीं कर लेता तब तक कंपनी अपने फेसबुक पेज पर ना ही कुछ पोस्ट करेगी।
जैसे Facebook के कुल कमाई पर भारी गिरावट आने का अंदेशा लगाया जा रहा है वही इस मामले का तूल पकड़ने से अभी अंदेशा लगाया जा रहा है कि Facebook को लगभग 14% की हानि हुई है। लेकिन फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने इसे नकारा है।
वहीं केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद कांग्रेस पर 2019 में अपना चुनाव अभियान चलाने के लिए राजनीति डेटा विश्लेषक फॉर्म कैंब्रिज एनालिटिका के साथ काम करने का आरोप लगाया है जिसके बाद से कांग्रेस लगातार बीजेपी पर हमला वार है कांग्रेस का आरोप है कि bjp लंबे समय से कैंब्रिज एनालिटिका के साथ काम कर रही है कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पिछले दिनों कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद पर हमला बोलते हुए कहा था कानूनी मंत्री झूठी खबरें फैलाने में मगन है।
डेटा लीक यारों के बीच मार्क जुकरबर्ग ने कहा भारत में चुनाव से पहले करेंगे डेटा सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
मार्क जुकरबर्ग ने द न्यूयॉर्क टाइम्स को दिए इंटरव्यू में कहा है कि हमारा ध्यान केवल अमेरिकी चुनाव तक नहीं है बल्कि भारत ब्राजील में होने वाले चुनाव और इस साल होने वाले अन्य चुनाव पर भी है जो बहुत ही महत्वपूर्ण है
      डेटा लीक मामले में बुरी तरह फंसे Facebook के प्रमुख मार्क जुकरबर्ग ने कहा है कि भारत जैसे देश में आने वाले चुनाव की निष्पक्षता सुनिश्चित करने के लिए Facebook अपनी सिक्योरिटी और सर्विस को बेहतर करेगा यह बयान जुकरबर्ग की तरफ से उस वक्त आया है जब इस साल 2016 में हुए अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में पॉलिटिकल फॉर्म कैंब्रिज एनालिटिका पर Facebook यूजर्स के डाटा चुराने का आरोप लगाया गया है।
जुकरबर्ग ने कहा हमारा ध्यान केवल अमेरिकी चुनाव तक नहीं है बल्कि भारत ब्राजील में होने वाले चुनाव और इस साल होने वाले अन्य चुनाव पर भी है जो की बहुत ही महत्वपूर्ण है
उन्होंने कहा नए AI टूल को हमने 2016 के चुनाव के बाद बनाया और पाया कि 30000 से अधिक फर्जी खाते हैं जो रूसी सूत्रों से जुड़े हैं और वे उस रणनीति के तहत काम करने की कोशिश कर रहे थे जैसे उन्होंने अमेरिका में 2016 के चुनाव में किया गया था हम इन फर्जी खातों को हटाने में कामयाब हुए हैं पिछले साल अलबामा में हमने फर्जी अकाउंट और गलत खबरों की पहचान के लिए कुछ नया आइटम पेश किए थे और हमें बड़ी संख्या में मेसोडोनिया अकाउंट का पता चला जो कि फर्जी खबरें फैला रहे थे और हमें उन्हें बंद किया उन्होंने आगे काम में बेहतर सिस्टम के बारे में विचार कर रहा हूं ऐसे समय में जब मेरा मानना है कि रूस और अन्य सरकारें जो भी काम करती है उसे और सूझबूझ से करने जा रहे हैं इसलिए हम यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि हम सिस्टम को और अधिक मजबूत बनाएं।
एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा है कि रूस जैसे देशों का चुनाव में हस्तक्षेप को कठिन बनाने के लिए Facebook को बहुत काम करने की जरूरत है ताकि ट्रोल और अन्य लोग फर्जी खबरें नहीं फैला सके।
आपको बता दें कि गुरुवार को भारत के आईटी मंत्री मैं Facebook को चेताया था कि अगर उसकी ओर से देश की चुनावी प्रक्रिया में किसी तरह की बाधा उत्पन्न की जाती है तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी यहां तक भी कहा कि अगर जरुरत पड़ेगा तो जगह को भारत में तलब किया जाएगा।